पुलिस ने डबल मर्डर मामले में आरोपी किए काबू, शराब के कारोबार और वर्चस्व की लड़ाई में की थी हत्या

Spread This

गुरुग्राम  : गुरूग्राम में पटौदी इलाके में दो सगे भाइयों की हत्या के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अजय जैलदार और एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। गैंगवार और शराब करोबार के साथ अपने वर्चस्व को बढाने के लिए अजय ने दोनों भाइयों की हत्या की थी।

जानकारी के मुताबिक शराब करोबार, गैंगवार और अपने वर्चस्व को अपराध की दुनिया में कायम रखने के लिए गुरूग्राम के पटौदी में दो सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। अपराध की दुनिया का सरताज बनने के लिए गैंगवार को अंजाम देने वाला अजय जैलदार ने ऐसा चक्रव्यू रचा की उसमें परमजीत ठाकरान और सुरजीत निकल नहीं पाए। अजय ने दोनों की हत्या का पूरा प्लान पहले ही तैयार कर लिया था और रैकी करवाकर दोनों सगे भाइयों की घर में ही गोली मारकर हत्या कर दी थी। बता दें कि 25 फरवरी को घर में परमजीत और सुरजीत मौजूद थे उसी दौरान आधा दर्जन हमलावरों ने करीब 30 से ज्यादा गोलियां चलाकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया था।

बता दें कि पुलिस ने अजय जैलदार और उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है। इससे पहले भी तीन आरोपियों को काबू कर लिया गया है।  आरोपी अजय जैलदार पहले भी एक हत्या के मामले में जेल में सजा काट रहा था। 2012 से वह जेल में बंद था और 2020 में जमानत पर जेल से बाहर आया और जेल में अजय की मुलाकात गैंगस्टर काला जैठड़ी और नरेश सेठी से हुई थी जिसके बाद अजय लौरेंस बिश्नोई के भी सम्पर्क में आया और उसके बाद उसने शराब के कारोबार को बढाने के साथ-साथ अपराध की दुनिया में सिक्का जमाने के लिए भी अपराध की काली दुनिया को चुन लिया। सुरजीत और परमजीत दोनों भाइयों का शराब का कारोबार काफी तेजी से बढ़ रहा था जिसके बाद अजय ने अपने साथियों के साथ मिलकर दोनों भाइयों को ठिकाने लगाने और गैंगस्टर कौशल को  भी सबक सिखाने के लिए दोनों भाइयों की हत्या कर दी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.