प्रमोद प्रेमी यादव, काजल यादव, माधव राय की फिल्म “मैं ससुराल नहीं जाऊँगी” का पोस्ट प्रोडक्शन कम्प्लीट, जल्द होगा ट्रेलर रिलीज

Spread This

मामेंद्र कुमार (चीफ एडिटर डिस्कवरी न्यूज 24) : भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार प्रमोद प्रेमी यादव, एक्ट्रेस काजल यादव और माधव राय के शानदार अभिनय से सजी भोजपुरी फिल्म “मैं ससुराल नहीं जाऊँगी” का पोस्ट प्रोडक्शन मुंबई में कम्पलीट कर लिया गया है। इस फ़िल्म का ट्रेलर जल्द ही रिलीज किया जाएगा। मेहता ब्रदर्स फिल्म प्रोडक्शन हाउस बैनर के तले भव्य पैमाने पर निर्मित की गई भोजपुरी फिल्म मैं ससुराल नहीं जाऊँगी में केंद्रीय भूमिका में प्रमोद प्रेमी यादव हैं, उनकी नायिका काजल यादव हैं। साथ ही बड़े भाई के किरदार में एक्टर माधव राय हैं। यह फ़िल्म सम्पूर्ण पारिवारिक है, जो हर वर्ग के दर्शकों को ध्यान में रखकर बनाई गई है।

इस फ़िल्म के निर्माता शम्भू कुमार हैं, जो एक बेहतरीन एवं सम्पूर्ण पारिवारिक फिल्म बनाकर मनोरंजन के साथ ही साथ समाज को संदेश देने का कार्य कर रहे हैं। फिल्म के कुशल निर्देशन की कमान टैलेंटेड निर्देशक सन्तराम संभाला है, जिन्होंने बेहतरीन फ़िल्म की मेकिंग किया है। इस फिल्म के लेखक एस के सचिन हैं, जिन्होंने संदेशपरक विषय पर फिल्म का लेखन किया है। इस फिल्म में गीत-संगीत पक्ष पर भी बहुत ही बारीकी से ध्यान रखा गया है। गीतकार प्यारेलाल यादव कवि, विनय निर्मल, संतराम, एस के सचिन के लिखे गीतों को मधुर संगीत से सजाया है संगीतकार ओम झा, रमेश रोशन ने। डीओपी अजय रौनियार हैं। नृत्य विवेक थापा, मारधाड़ अशोक यादव, कला शशिकांत भारद्वाज, दीपक राजभर का है। ईपी अखिलेश जायसवाल (निखिल) हैं। प्रोडक्शन धीरज चंचल, महेश धारिया कर रहे हैं। फिल्म प्रचारक रामचन्द्र यादव हैं। फिल्म के मुख्य कलाकार प्रमोद प्रेमी यादव, काजल यादव, गिरीश शर्मा, माधव राय, लक्ष्मी सिंह, डॉली गुप्ता,  विद्या सिंह, महेश भारती, अमर राव, धर्मेद्र श्रीवास्तव, आनंद तिवारी, शीला यादव आदि हैं।

 

गौरतलब है कि फिल्म मैं ससुराल नहीं जाऊँगी के डायरेक्टर संतराम ने कहा कि यह फिल्म मनोरंजन से भरपूर एक पारिवारिक फिल्म है, जो समाज को पारिवारिक कलह, मतभेद और मनमुटाव को दूर करके एकजुट परिवार के साथ रहकर जीवन यापन करने का संदेश देती है। फिल्म में पूर्वाचल के कई जनपदों के कलाकार भी हैं, जिन्हें अपनी प्रतिभा को बड़े पर्दे पर दिखाने का मौका मिल रहा है। इस फिल्म के निर्माता शम्भू कुमार ने बताया कि पूर्वांचल की मिट्टी के कण कण में रची बसी है भोजपुरी। भोजपुरी बोली में वह मिठास है, जिसका कोई वर्णन नहीं है। मेरी यह भोजपुरी फिल्म मैं ससुराल नहीं जाऊँगी भोजपुरी का मान-सम्मान बढ़ाने में कारगर साबित होगी। इस फिल्म से सम्पूर्ण परिवार को संदेश देने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे पारिवारिक एकता बरकार रहे और समाज में मिसाल कायम हो सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.