पेशावर और खैबर जिले लगातार बन रहे निशाना, पाकिस्तान में नई सरकार आने के बाद भी नहीं रुक रहे आतंकी हमले

Spread This

पाकिस्तान में शहबाज सरकार आने के बाद भी देश में आतंकी हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। खैबर कबायली जिले और पेशावर के कुछ क्षेत्रों में हिंसक आतंकवादी हमले लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे ही एक हमले में अजब तालाब खैबर में स्थित दो पुलिस चौकियों और पेशावर में सचिव पुल को आतंकियों ने निशाना बनाया था। द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को पांच नागरिकों के साथ एक इंस्पेक्टर और सहायक उप-निरीक्षक की आतंकवादियों ने हत्या कर दी थी। हमले में गंभीर रूप से घायल हुए सब-इंस्पेक्टर (एएसआई) के सहायक रहीम शाह ने भी बाद में दम तोड़ दिया।

तलाशी अभियान के बाद हुआ हमला

बता दें कि यह हमला शहाब खेल, बाजिद खेल, शेख मोहम्मदी और अन्य स्थानों के कस्बों में पिछले दिन चलाए गए एक तलाशी अभियान के बाद हुआ। द न्यूज इंटरनेशनल के अनुसार, कथित तौर पर आपरेशन के दौरान लगभग 18 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया था। इसके अलावा, बड़ाबेर, सरबंद और मटानी के कस्बे भी पिछले कुछ हफ्तों में लगातार आतंकवादी हमलों का शिकार हो रहे हैं।

 

पुलिस चौकियों को बनाया जा रहा निशाना

गौरतलब है कि पाकिस्तान में ये हमले एकाएक नहीं बढ़े हैं, देश में ये आलम सालों पुराना है। खुद पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देता है जिसका उसे खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। वहीं हाल के महीनों में विभिन्न पुलिस चौकियों और पेट्रोलिंग वैन के साथ पुलिस अधीक्षक (एसपी) के कार्यालय पर आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला किया है।

पुलिस अधिकारियों ने दावा किया है कि सदर संभाग के इन गांवों और निकटवर्ती खैबर आदिवासी जिले में स्थित अन्य शहरों में कानून व्यवस्था में सुधार के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे।

बलूचिस्तान में बीते दिन गई सैनिक की जान

पाक में आतंक का आलम ऐसा है कि आतंकी सुरक्षा बलों को भी अब निशाना बना रहे हैं। शुक्रवार को ही बलूचिस्तान में एक सुरक्षा बलों की चौकी पर आतंकियों ने हमला कर एक सैनिक को मार दिया है, जबकि एक अन्य घायल हो गया है।

 

source news: jagran

Leave A Reply

Your email address will not be published.